राशि के अनुसार अपनाएं ये उपाय, चमक उठेगा कारोबार

0
151

प्रत्येक कारोबारी अपने व्यवसाय में प्रगति करना चाहता है और इसके लिए वह प्रयास भी करता रहता है। इस काम में ज्योतिष उपाय भी काफी मददगार साबित होते है। इससे व्यवसाय में आने वाली बाधाएं दूर होती है।

आइए आज www.newspostlive.in व्यवसाय को बढ़ाने के लिए विभिन्न राशियों के अनुसार उपाय बता रहा है जानिए…

मेष: किसी भी शुभ तिथि को व्यवसाय स्थल पर कांच या मिट्टी के पात्र में जल भरकर रखें। घर से निकलने से पहले कुछ मीठा खाकर प्रस्थान करें। रोजाना कांच के बर्तन में पानी सहित पांच सफेद फूल रखें।

वृष: कार्यस्थल पर चमकीले एवं हल्के रंगों का प्रयोग करें। किसी शुभ तिथि में कार्यस्थल पर एक दर्पण ऐसी दीवार पर लगाना चाहिए, जो कि बाहर से दिखाई न दें, परंतु प्रवेश करते ही उस दर्पण पर दृष्टि पड़े।

Also Read : ये पौधा चुम्बक की तरह आकर्षित करता है पैसे को, एक बार आजमाकर देखों

मिथुन: व्यवसाय स्थल पर आवाज करने वाला कोई भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण न रखें। उत्तर या पूर्व की दीवार पर डॉल्फिन या पेंडुलम घड़ी लगाएं। दुकान या संस्थान के बाहर पांच हरे पौधे लगाएं, लाभ मिलेगा।

कर्क: कार्यसिद्वि यंत्र नवरात्र में अपने पूजाघर में स्थापित करवाएं और प्रतिदिन दर्शन व पूजा-अर्चना करें। पूर्णिमा को अपने व्यवसाय स्थल की दीवारों तथा प्रवेशद्वार पर गंगाजल छिड़के, लेकिन याद रखें गंगाजल जमीन पर न गिरें।

सिंह: दुकान में इस तरह बैठना चाहिए कि बाहर से अंदर बैठे व्यक्ति का मुंह दिखाई न पड़े। प्रवेशद्वार पर रोली से जय मां दुर्गे अंकित करें। नवरात्र में अष्टमी के दिन मिट्टी का शेर मंदिर में चढ़ाएं।

Also Read : मान-सम्मान बढ़ाती है सूर्य आराधना

कन्या: मां दुर्गा का चित्र अपनी दुकान या संस्थान के मंदिर में लगाएं। लकड़ी का फर्नीचर प्रयोग में लाएं। गाय को हरा चारा या पालक खिलाएं।

तुला: सात श्रीफल लाल वस्त्र में बांधकर कार्यस्थल की अलमारी में रख दें। उस अलमारी में उस स्थान पर अन्य सामान नहीं होना चाहिए। मां दुर्गा के दर्शन कर फिर दुकान खोले।

वृश्चिक: दुकान के मुख्यद्वार के दोनो ओर सिंदूर से स्वास्तिक बनाएं। दुकान के मंदिर में प्रथम मंगलवार या शनिवार को लाल पुष्प चढ़ाएं। पूज्य व्यक्ति के चरण स्पर्श कर दुकान या संस्थान की ओर प्रस्थान करें।

Also Read : जानिए क्या है मिलेनियर्स की लाइफ चेंजिंग हैबिट्स

धनु: धन रखने के स्थान पर चंदन की लकड़ी गुलाबी कपड़े में बांधकर रखें। दुकान के मंदिर में गाय के घी में छोटी इलायची डालकर दीपक जलाएं। गाय को रोटी खिलाएं तथा व्यापार स्थल पर धनदा यंत्र स्थापित करें।

मकर: शाम के समय घोड़े की नाल को व्यापार स्थल के प्रवेशद्वार पर स्थापित करें। व्यवसाय स्थल के मंदिर में गंगाजल भरकर रखें।

कुंभ: कार्यस्थल पर इस प्रकार बैठे कि आगे का स्थान खुला हो यानी कोई बंद दरवाजा या कोना न हो। कार्यस्थल की दीवारों पर लाल व सफेद रंग का प्रयोग न करें। संस्थान या व्यवसाय स्थल पर आएं भिखारी को खाली हाथ न लौटाएं।

मीन: कार्यस्थल पर जाते समय पीले फूल को घिसकर उसका तिलक कर जाएं। बुधवार व शनिवार को गाय को हरा चारा खिलाएं।

Also Read :

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

Facebook Comments
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here