Delhi Mundaka fire: दिल्ली में चार मंजिला इमारत में आग लगने का ये था कारण, हादसे में 27 लोगों की मौत, 12 बुरी तरह झुलसे

    - Advertisement -

    नई दिल्ली: दिल्ली में मुंडका मेट्रो स्टेशन (Delhi Mundaka fire) के पास शुक्रवार शाम 4:40 बजे चार मंजिला व्यावसायिक इमारत में भीषण आग लग गई। आग में घिरने से 27 लोगों की जलकर मौत हो गई। बुरी तरह झुलसे 12 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दमकल और पुलिस कर्मियाें ने दूसरी मंजिल के कांच तोड़कर 50 सेे अधिक लोगों को बचाया है। देर रात बचाव अभियान में दमकल विभाग और पुलिस के साथ एनडीआरएफ की टीम भी शामिल हो गई।

    चार मंजिला इमारत में कई कंपनियों के गाेदाम हैं। यहां सीसीटीवी कैमरे, राउटर, वाईफाई आदि बनाने-असेंबल करने का काम होता है। इमारत में आने-जाने के लिए एक ही दरवाजा है। आग दरवाजे के नजदीक ही लगी, इसलिए लोगों को निकलने का मौका नहीं मिला। कुछ महिला-पुरुष खिड़कियों से कूदते भी देखे गए थे। हादसे पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत लोकसभा स्पीकर ओम बिरला, कांग्रेस नेता राहुल गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शोक व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री ने मृतकों के परिजन को 2-2 लाख रुपए देने की घोषणा की है।

    फायर विभाग के निदेशक अतुल गर्ग के मुताबिक, आग पहली मंजिल से सीसीटीवी कैमरा और राउटर बनाने की कंपनी से शुरू हुई। हादसे के वक्त 50 से ज्यादा लोग काम कर रहे थे। देर रात आग पर काबू पा लिया गया। इसके बाद पहली दो मंजिलों पर सर्च ऑपरेशन के दौरान जली हालत में 27 शवों को निकाला गया। तीसरी और चौथी मंजिल की सर्चिंग बाकी थी, जिसमें 10 से 15 लोगों के फंसे होने की आशंका है।

    किसी ने कूदकर बचाई, तो कोई रस्सी के सहारे उतरा

    हादसे के बाद इमारत में फंसे लोगों को रस्सियों व खिड़कियों को तोड़कर निकाला गया था। पूरी इमारत में धुआं भर जाने और निकलने का रास्ता नहीं दिखने से लोग इमारत में फंस गए। उन्हें सांस लेने में परेशानी होने लगी। कुछ लोग जान बचाने के लिए पहली मंजिल से नीचे कूद गए, तो कई रस्सी के सहारे उतरे। इनमें कई महिलाएं भी शामिल हैं।

    सीढ़ी पर रखे जनरेटर में शॉर्ट सर्किट से आग लगी

    इमारत की पहली मंजिल पर कंपनी में काम करने वाली युवती पूजा के परिजनों ने बताया कि पूजा अपनी भांजी दृष्टि के साथ काम करती है। दोपहर को 200 लोगों की मीटिंग चल रही थी। सीढ़ी पर रखे जनरेटर में शॉर्ट सर्किट होने से आग लगी। आग के बाद सीढ़ियाें में धुआं भर गया। इस वजह से लोगों को उतरने का रास्ता नहीं मिला। ऐसे में पूजा ने पहली मंजिल से छलांग लगाकर जान बचाई। पुलिस ने घटना के बाद कंपनी मालिक हरीश गोयल और वरुण गोयल को हिरासत में ले लिया है।

    अपनों की तलाश में भटकते रहे परिजन

    हादसे के बाद लोग अपनों की तलाश में देर रात तक भटकते रहे। अमित नामक पीड़ित ने कहा कि उनका बेटा इस इमारत में काम करता है। उसका कुछ पता नहीं चल पा रहा है। नांगलोई निवासी ममता ने कहा उसकी मां इस कंपनी में काम करती थी। वह नहीं मिल रही है। वहीं एक महिला ने कहा उसकी तीन बेटियां बिल्डिंग में काम करती हैं। उनके नाम पूनम, मधु और प्रीति हैं। उनका भी कुछ पता नहीं चल पा रहा है।

    Also Read :

    ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. NewsPost.in पर विस्तार से पढ़ें देश की अन्य ताजा-तरीन खबरें

    - Advertisement -
    News Post
    News Posthttp://newspost.in
    हिन्दी समाचार, News in Hindi, हिन्दी न्यूज़, ताजा समाचार, राशिफल, News Trend. हिन्दी समाचार, Latest News in Hindi, न्यूज़, Samachar in Hindi, News Trend, Hindi News, Trend News, trending news, Political News, आज का राशिफल, Aaj Ka Rashifal, News Today

    Latest news

    - Advertisement -

    Related news

    - Advertisement -

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    ollhmtn05epenfp1yuply4cg5bx3sd